मन के, मेरे ये भरम

Jul 9, 2016 by

मन के, मेरे ये भरम

मन के, मेरे ये भरम,
कच्चे मेरे ये करम,
ले कर चले हैं कहाँ,
मैं तो जानूँ ही ना।

तू है मुझ में समाया, कहाँ लेके मुझे आया,
मैं हूँ तुझमे समाया,
तेरे पीछे चला आया,
तेरा ही मैं इक साया…

Comments

comments